2 Line ShayariShayari

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line in hindi|| Tareef Shayari On Beauty

Tareef Shayari | Shayari On Beauty | Praise Shayari In Hindi

Hindi Status And Shayari Khubsurti Shayari खूबसूरती की तारीफ शायरी in Hindi. खूबसूरती की तारीफ शायरी in Hindi Khubsurti Shayari. Best Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line in Hindi for Girlfriend by Boyfriend, Romantic Shayari on Love, Tareef Sms Messages in Hindi for Her, Taarif Shayari for Impress to GF. *** Khubsurati ki Tareef Shayari *** Unki Khubsurati Ki Kya Taarif Karun Eh Yaaron, Khuda Bhi Un Jaisa Koi Aur Na bana saka.

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line in hindi

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line

1.आज मुझे ये बताने की इजाज़त दे दो,
आज मुझे ये शाम सजाने की इजाज़त दे दो,
अपने इश्क़ मे मुझे क़ैद कर लो,
आज जान तुम पर लूटाने की इजाज़त दे दो.

2.तुझे देख कर ये जहाँ रंगीन नजर आता है,
तेरे बिना दिल को चैन कहां आता है,
तू ही है मेरे इस दिल की धड़कन,
तेरे बिना ये जहां बेकार नज़र आता है।

3.उनकी तस्वीर को सिने से लगा लेते हैं,
इस तरह जुदाई का गम मिटा देते हैं,
किसी तरह कभी उनका जिक्र हो जाये तो,
भींगी पलकों को हम झुका लेते हैं।

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line

4.जिक्र करता है ये दिल सुबह शाम तेरा,
बहते हैं आँसू और बनता है नाम तेरा,
किसी और को क्यों देखे ये आँखे मेरी,
जब दिल पर लिखा है मेरे नाम तेरा।

husn ki tareef shayari in hindi

5.मोहब्बत की शमा जला कर तो देखो,
ये दिलो की दुनिया सज़ा कर तो देखो,
तुझे हो न जाए मोहब्बत तो कहना,
ज़रा हमसे नजरे मिला कर देखो।

6.सपना कभी साकार नही होता,
मोहब्बत का कोई आकार नही होता,
चाहे कुछ भी हो जाये इस दुनिया में,
लेकिन दोबारा किसी से सच्चा प्यार नही होता।

khubsurti ki tareef shayari in urdu

7.मुहब्बत को जब लोग खुदा मानते है,
प्यार करने वालों को क्यों बुरा मानते है,
जब जमाना ही पत्थर दिल है,
फिर पथर से लोग क्यों दुआ मांगते है.

tareef shayari for beauty

8.दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है,
बातें करने का अंदाज हुआ करता है,
जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती,
सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है!

9.बातों बातों में दिवाना बना ले
अगर मुस्कुराये तो बिजलियां गिरा दे
हुशन वालो की तारीफ क्या कहे साहिब
एक नज़र देख ले तो सीने में आग लगा दे…

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line

10.पलकों पे बिठाऊँ के दिल में छिपाऊं
तुझको में अपना हमसफ़र बनाऊ
तेरी हर अदा पर दिल फ़िदा है मेरा
इस मासूम सी सूरत को अपना बनाऊं….

11.याद आये ऐसी कोई चीज़ चाहिए
हमें आपकी क्यूट तस्वीर चाहिए
देखे वाले बस देखते रह जाये
ऐसा तेरे लबों से हमें प्यार चाहिए…

12.गुस्से में तुम हमें और
भी खूबसूरत लगते हो
ठहर जाये ये पल हम और
देख ले तेरी इस अदा को…

tareef shayari on face

13.नशीली आँखों से वो जब हमें देखते हैं ।,
हम घबराकर आँखें झुका लेते हैं,
कौन मिलाए उनकी आँखों से आँखें सना है,
वो आँखों से अपना बना लेते है।

14.कितना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा,
ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा,
लोग कहते है चाँद का टुकड़ा तुम्हें,
पर मैं कहता हूँ चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा।

15.कितनी खूबसूरत हैं आँखें तुम्हारी,
बना दीजिये इनको किस्मत हमारी,
इस ज़िंदगी में हमें और क्या चाहिए,
अगर मिल जाए मोहब्बत तुम्हारी।

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line

16.वो निगाहों से यूँ शरारत करते हैं ,
अपनी अदा से भी कयामत करते हैं ,
निगाहें उनकी भी चेहरे से हटती नहीं ,
और वो हमारी नजरो से शिकायत करते हैं।

tareef shayari for beauty

17.जरा सी देर के लिए सब कुछ भुला के देख लेते है,
तुम्हें हम सामने बैठा कर देख लेते है,
वो चेहरे कैसे होते है की जिनसे चाँद शर्माए,
जरा तेरे चेहरे से जुल्फे हटा कर देख लेते है।

18.खूबसूरती बिखेर देने वालो को.
क्या जरुरत है सवरने की.
वो तो खुद कयामत है
उसे क्या जरुरत है तारीफ की.

19.इतरा कर अपनी खूबसूरती पर.
तुम कुछ यूँ नखरे दिखाती हो.
समां की तरह जलती हो
और दुसरे को भी जलाती हो.

husn ki tareef shayari in hindi

20.तेरी तारीफ मे मैंने कई बाते तो कह दी.
पर एक बात कहना तो भूल गया.
चेहरे तो तू रोज देखा करती है आईने में.
कभी अपने गंजे बालो को भी तो जरा देख लिया होता.

21.तेरे हुस्न की क्या तारीफ करू
कुछ कहने से भी डरता हूँ
कही भूले से भी तू कुछ उल्टा ना समझ बैठे
पर मैं तुझसे बेइंतहा महोब्बत करता हूँ

khubsurti ki tareef shayari in english

22.देखी जबसे आपकी तस्वीर है,
कर गयी मेरे दिल को चीर है .
मैं तो आप पर फ़िदा होने लगा,
ख्यालों में आपके खोने लगा .

23.सिर्फ तन की ही नहीं,
तुम मन की भी सुन्दर हो.
इन्ही अदाओ के कारण तुम,
मेरे दिल के अन्दर हो ….

two line husn shayari

24.तेरे हुसन ने कायल कर दिया,
तेरी अदाओं ने घायल कर दिया.
हो गया इस जहां से बेगाना,
जब से तेरा बन गया दीवाना.

25.जब से आप हमें
देखकर हंस गयी,
खूबसूरती आपकी
हमारे दिल में बस गयी

26.खुदा ने नवाज़ा है आपको Beauty से,
तो इसे संभाल कर रखना .
हुसन और निखरता जाएगा,
बस इसे तराश कर रखना.

two line husn shayari

27.क्यू है कोई इतना सुन्दर,
भर गया है दिल के अन्दर.
मासूम-सी सूरत है,
दिल में बस गयी मूरत है.

28.तेरे नैनो की शोख अदाओं ने हमे लूटा लिया
तेरी झील सी गहरी आँखों ने हमे लूटा लिया
हम तो लूट चुके है इस कदर ऐ हसीं ख्वाब
अब डरता हूँ कहीं कोई लूट न ले मेरे ख्वाब

29.ये आईने क्या दे सकेंगे तुम्हें
तुम्हारी शख्सियत की खबर,
कभी हमारी आँखो से आकर पूछो,
कितने लाजवाब हो तुम।

khubsurti ki tareef shayari in hindi for friend

30.इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है,
क्या बताये ये राज़ कैसा है,
कौन कहता है कि आप चाँद जैसे हो,
सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है।

31.अभी इस तरफ़ न निगाह कर
मैं ग़ज़ल की पलकें सँवार लूँ,
मेरा लफ़्ज़-लफ़्ज़ हो आईना,
तुझे आईने में उतार लूँ।

husn ki tareef shayari in hindi

32.नज़रे तुम्हें देखना चाहे तो आंखों का क्या कसूर,
हर पल याद तुम्हारी आये तो सांसों का क्या कसूर,
वैसे तो सपने पुछकर नहीं आते,
पर सपने तेरे ही आये तो हमारा क्या कसूर…..

33.फूलों की वादियों में हो बसेरा तेरा,
सितारों के आँगन में हो घर तेरा,
दुआ है एक दोस्त की एक दोस्त को,
कि तुझसे भी खूबसूरत हो सवेरा तेरा।

khubsurti ki tareef shayari in hindi for friend

34.पलकों को जब-जब आपने झुकाया है,
बस एक ही ख्याल दिल में आया है,
कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है,
तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है।

35.तुम हर तरफ प्यार से देखा ना करो
हर तरफ प्यार की एक कहानी बनेगी
नजर जो झूकी तो नयी शायरी बनेगी
नजर जो उठी तो गज़ल की जुबान बनेगी ।

tareef shayari for beauty

36.तेरा हुस्न एक जवाब,मेरा इश्क एक सवाल ही सही
तेरे मिलने कि ख़ुशी नही,तुझसे दुरी का मलाल ही सही
तू न जान हाल इस दिल का,कोई बात नही
तू नही जिंदगी मे तो तेरा ख़याल ही सही

37.हसीन तो और भी है इस जहाँ में मौला ,
पर जब उसने अपना घुँगट खोला ,
तो चाँद भी मुझसे शर्मा के बोला,
ये रात की चाँदनी है या दिन का शोला…

38.अभी इस तरफ ना निगाहें कर,
मैं गज़ल की पलकें संवार लू,
मेरा लफ्ज लफ्ज हो आईना ,
तुझे आईने में उतार लू ।

tareef shayari on face

39.फूलों से खूबसूरत कोई नहीं
सागर से गहरा कोई नहीं
अब आपकी क्या तारीफ करू
खूबसूरती में आप जैसा जैसा कोई नहीं

40.होंठो की पंखुडियो को तू गुलाब न कहना
वो तो मुरझा जाते है
इनकी लाली को देखकर लगता है
गुलाब भी अपना रंग यही से चुरा कर लाये है

41.तुम्हारे प्यार की दास्तान हमने अपने दिल में लिखी है,
न थोड़ी न बहुत बे-हिसाब लिखी है,
किया करो कभी हमे भी अपनी दुआओं में शामिल,
हमने अपनी हर एक सांस तुम्हारे नाम लिखी है

42.आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी,
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी,
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी.

43.तेरे साय को दिल में छुपाये चलते हैं,
तेरी यादो को दिल में दबाय चलतें हैं,
जिस दिन न हो उन से मुलाकात,
उस दिन सांसो के गुल मुरझाय चलतें हैं।

44.अपनी उल्फ़त का यकीन दिला सकते नही।
सारी ज़िन्दगी आपको भुला सकते नही।
हम ओर क्या दे आपको प्यार के सिवा।
चाँद ओर तारे तो ला सकते नही।

45.ख़ामोशी इकरार से काम नहीं होती,
सादगी भी सिंगार से काम नहीं होती,
ये तो अपना अपना नज़रिया है मेरे दोस्त,
वर्ना दोस्ती भी प्यार से काम नहीं होती ।

46.जब ख़याल आया तो खयाल भी उनका आया,
जब आँखे बंद की ख्वाब भी उनका आया,
सोचा याद कर लू किसी और को,
मगर होठ खुले तो नाम भी उनका आया.

47.ऐसा चेहरा है तेरा जैसा रोशन सवेरा,
जिस जगह तू नहीं है उस जगह है अँधेरा,
कैसे फिर चैन तुझ बिन तेरे बदनाम लेंगे,
हुस्न की बात चली तो सब तेरा नाम लेंगे।

48.दिल तो उनके सीने में भी मचलता होगा,
हुस्न भी सौ सौ रंग बदलता होगा,
उठती होंगी जब भी निगाहें उनकी,
खुदा भी गिर गिर के संभलता होगा।

49.तेरी मस्त मस्त लहराती ज़ुल्फें,
हवा को भी लहराने पर मजबूर कर दें,
तू प्यार भरी नजरों से देख ले जिसे,
उसे अपनी मोहब्बत की चाहतों से मगरूर कर दे|

50.अभी इस तरफ़ न निगाह कर
मैं ग़ज़ल की पलकें सँवार लूँ,
मेरा लफ़्ज़-लफ़्ज़ हो आईना
तुझे आईने में उतार लूँ।

51.तू ही दिल में बसता है, किसी और से हमने क्या करना
मैं गुलाम और तू रानी है हुस्न की, मैंने प्यार का इज़हार क्या करना
इक कांटे का दर्द न सहा जाए, वफ़ा ए मोहब्बत तूने क्या करना
तेरा प्यार मारे मुझे हर पल, ऐसी मोत में मरे तो क्या मरना

52.भगवान् ने जब तुझे बनाया होगा
एक बार उसका ईमान भी डगमगाया होगा
सोचता होगा रख लूँ तुझे अपने साथ जन्नत में
फिर उसे मेरा भी तो ख्याल आया होगा

53.ये सोचकर रोक लेता हूँ कलम को,
तेरी तारीफ लिखते लिखते,
की कहीं इन लफ़्ज़ों को सबसे बेहतरीन
होने का गुमान ना हो जाये

54.यू तारीफ ना किया करो मेरी शायरी की
दिल टूट जाता है मेरा जब तुम मेरे दर्द पर वाह-वाह करते हो

55.सभी तारीफ करते हैं, मेरी शायरी की लेकिन
कभी कोई सुनता नहीं, मेरे अल्फाज़ो की सिसकियाँ.

56.तारीफ़ अपने आप की, करना फ़िज़ूल है,
ख़ुशबू तो ख़ुद ही बता देती है, कौन सा फ़ूल है

57.एक लाइन में क्या तेरी तारीफ़ लिखू
पानी भी जो देखे तुझे तो प्यासा हो जाये

58.ये इश्क़ बनाने वाले की मैं तारीफ करता हूं
मौत भी हो जाती है और क़ातिल भी पकड़ा नही जाता

59.यह कैसा माहौल हैं और यह कैसा आलम हैं
जानेमन तेरे हिस्से में बस सितम ही सितम हैं.

60.काश वो खिड़की फिर एक बार हवा से खुल् जाय
काश आँखों को नजर आए माशूका का दुबारा चेहरा

61.सोचता था तुम्हें खूबसूरत सा कोई घर दुगा
मैला आंचल तेरा फूलों से कभी भर दूंगा

62.सपने में ख़त लिखा हूँ, मुझे आज सपना क्यों आया
कुछ तो बता दिलबर तूने रात भर क्यों जगाया

63.आप तो मेरी चाहत नही है तो दुआ कैसी हैं
प्रियतम ये तो बताओगे ये प्यार कैसी हैं

64.थम चूका हैं मेरी निगाहें ख़्वाब देखते देखते
तेरी बेवफाई की हसीन अक्स को तलाश करते करते

65.यही आस गर न होती हम बेजुबा ना होते
गर तुम न हंसी होती हम मेहरबा न होते

66.तमन्ना थी जो कभी वो हसरत बन गई।
कभी दोस्ती थी अब मोहब्बत बन गई।
कुछ इस तरह तुम शामिल हुवे ज़िन्दगी में।
तुझे सोचते रहना अब मेरी आदत बन गई।

67.चांद सा तेरा मासूम चेहरा
तू हया की एक मूरत है।
तुझे देख के कलियां
भी शरमा जाए।
तू इतनी खूबसूरत है।

68.लफ्जों से कहां लिखी जाती है
ये बेचैनियां मुहब्बत की।
हमने तो हर बार तुम्हे
दिल की गहराइयों से पुकारा है।

69.लगता हैं खाली वक़्त मे,
अतीत की तिजोरी खोल रहे हो तुम
और कुछ बेबाक यादे दिल मे घर कर बैठी है,
इसलिए तो कुछ नायाब बोल रहे हो तुम

Khubsurti Ki Tareef Shayari 2 Line

यह भी पढ़े-

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close